Dekho Eh Ki Keh Rahe …Akhir Tak Video Dekho

शिवसेना पंजाब की ओर से मंगलवार को गुरदासपुर में हुंकार रैली रखी गई थी। लेकिन इससे पहले ही शिवसेना के प्रदेश उप प्रधान कपिल महाजन की ओर से रैली को लेकर सोशल मीडिया पर डाली गई पोस्ट का कुछ सिख संगठनों की ओर से कड़ा विरोध किया गया। इसके बाद उक्त लोग एसएसपी कार्यालय में पहुंचे और शिवसेना नेता पर मामला दर्ज करने की मांग करने लगे। इसके बाद पुलिस के कहने पर शिवसेना नेता द्वार उक्त पोस्ट को सोशल मीडिया से हटाकर कुछ अन्य पोस्टें डाली गई। इसके चलते कुछ हद तक मामला शांत हो गया। लेकिन सुरक्षा के मद्देनजर शहर में कई थानों की पुलिस बुला कर पूरे शहर को सील कर दिया गया।

शिव सैनिकों की ओर से कड़ी सुरक्षा के बीच रामशरणम कॉलोनी से काहनूवान चौक में स्थित माई का तालाब मंदिर तक रैली निकाली गई। वहीं पर एडीसी जनरल को मांग पत्र सौैंप कर शिव सैनिकों ने अपनी रैली समाप्त कर दी। गौरतलब है कि शिवसेना पंजाब की ओर से मंगलवार को गुरदासपुर में हुंकार रैली रखी गई थी। इसके तहत शिव सैनिकों की ओर से राष्ट्रीय अध्यक्ष संजीव घनौली की अध्यक्षता में शहर में रैली निकालने के बाद Sant जरनैल सिंह भिडरावाले का पुतला जलाने का कार्यक्रम रखा गया था। इस संबंधी प्रदेश उपप्रधान कपिल महाजन की ओर से सोशल मीडिया पर मेैसेज भी डाल दिया गया। जैसे ही कुछ संगठनों को सोशल मीडिया पर भिडरावाला का पुतला जलाने संबंधी मैसेज का पता चला तो उन्होंने इसका विरोध करना शुरू कर दिया। कुछ सिख संगठनों के लोग एसएसपी कार्यालय में एकत्र हो गए और कपिल महाजन पर मामला दर्ज करने की मांग करने लगे। हालांकि पुलिस प्रशासन के कहने पर कपिल महाजन की ओर से कुछ समय बाद ही सोशल मीडिया पर डाली गई अपनी पोस्ट को हटा दिया गया और वह शहर में आतंकवाद के खिलाफ रैली निकालेंगे, लेकिन पुतला नहीं जलाएंगे। इस पर सिख संगठन के लोग सहमत हो गए।

सिख संगठनों के लोगों ने पुलिस को चेतावनी दी कि अगर पुतला जलाया गया या उसके खिलाफ कोई टिप्पणी की गई तो वह इसका कड़ा विरोध करेंगे। इसके बाद सिख संगठनों के लोग शहर के एक गुरुद्वारा में इकट्ठे हो गए। उधर, मामले की गंभीरता को देखते हुए एसएसपी द्वारा पुलिस जिला गुरदासपुर के विभिन्न थानों से पुलिस बल मंगवाकर पूरे शहर को सील कर दिया गया। कपिल महाजन के रामशरणम कॉलोनी में स्थित आवास के बाहर भी भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया। लोगों में भय का माहौल

उक्त घटना के तुरंत बाद पुलिस द्वारा शहर के हर चौक में भारी मात्रा में पुलिस बल तैनात कर दिया गया। इसके चलते लोगों में भय का मौहाल बन गया। लोग एक दूसरे से इतनी भारी संख्या में बाहरी थानों में पुलिस तैनात होने का कारण पूछने लगे। जिला पुलिस की ओर से विभिन्न जगहों पर 300 के करीब पुलिस जवान तैनात किए गए थे। लोगों को इस बात का डर सताने लगा कि कहीं फिर से गुरदासपुर में पहले की तरह गुरदासपुर में हुए दो समुदाय के टकराव वाला माहौल पैदा न हो जाए। हिदू नहीं है सुरक्षित

शिवसेना पंजाब के राष्ट्रीय प्रधान संजीव घनौली ने कहा कि जब से पंजाब में कांग्रेस की सरकार बनी है, तब से हिदू नेताओं की कोई सुनवाई नहीं हो रही। उन्होंने कहा कि पुलिस की ढीली कार्यप्रणाली के चलते पंजाब में आतंकवाद फिर से सरगर्म हो रहा है। उन्होंने कहा कि वह खालिस्तान का विरोध करते हैं और करते रहेंगे। उनकी पार्टी द्वारा पंजाब में भनप रहे आतंकवाद के खिलाफ ही रैली रखी गई है। प्रभारी विनय जालंधरी ने कहा कि हिदूओं की आवाज को दबाने का प्रयास किया जा रहा है, जिसका कड़ा विरोध किया जाएगा। पुतले का कार्यक्रम किया रद

शिव सैनिकों की ओर से पहले पूरे शहर में रोष रैली निकालने के बाद जरनैल सिंह भिडरावाला का पुतला जलाने का कार्यक्रम रखा गया था। लेकिन पुलिस प्रशासन द्वारा इसकी अनुमति न दिए जाने के चलते शिव सैनिकों का पुतला जलाने का कार्यक्रम रद कर दिया गया। शिव सैनिक रामशरणम कालोनी से आतंकवाद व खालिस्तान के खिलाफ नारेबाजी करते हुए काहनूवान चौक में पहुंचे तो एकदम से तेज बारिश शुरू हो गई। इसके बाद शिवसैनिक बारिश से बचने के लिए माई का तालाब मंदिर में दाखिल हो गए। पुलिस ने उन्हें वहीं पर अपनी रैली समाप्त करने के लिए कहा। इसके चलते एडीसी तेजिदरपाल सिंह संधू वहीं पर पहुंचे और शिव सैनिकों से मांग पत्र ले लिया। शिव सैनिकों द्वारा अपना आगे का कार्यक्रम रद कर दिया गया। इस मौके पर चेयरमैन राजीव, उत्तर भारत के चेयरमैन सतीश महाजन, राष्ट्रीय उपुप्रधान नरोत्तम मिन्हास,रोहित महाजन,प्रदेश संगठन मंत्री मुकेश लाटी, प्रदेश उपप्रधान दीपक कं बोज, प्रदेश उपप्रधान कपिल महाजन, मिक्की पंडित, उत्तर भारत प्रमुख विपन नैय्यर, पंकज चोपड़ा, शेर सिंह,जिला प्रधान सतीश कुमार, सूरज चोपड़ा, रमेश कुमार, महिला मोर्चा की प्रधान सोनिया महाजन,जोगिदर शर्मा,कुंवर महाजन, सुखमण मल्ली, सुरेश कुमार, राकेश सूरी, विपुन, मनजीत सिंह, अनिल नाहर, रिकू, कुलदीप, विनय सभ्रवाल, राम कुमार, मंगत राजपूत आदि उपस्थित थे।

Posted in: Misc